Thursday, August 11

asthma

asthma, health, winter tips

यह 10 बातें सर्दियोंं में दमा रोगियों कों देंगी राहत

कसरत से दमा प्रोत्साहित होना आम बात है और 80 से 90 प्रतिशत दमा पीड़ितों में यह प्रभावी हो सकता है। ठंडी खुष्क हवा दमा रोगियों के लिए सांस लेने में मुश्किल पैदा कर सकती है, जिससे सांस फूलना, घरबराहट, खांसी या सीने में जकड़न हो सकती है। इस बारे में जानकारी देते हुए आईएमए के नैशनल प्रेसीडेंट इलेक्ट एंव एचसीएफआई के प्रेसीडेंट डॉ केके अग्रवाल ने बताया कि कसरत के तुरंत बाद या कुछ घंटों बाद यह लक्ष्ण सामने आ सकते हैं।दस सुझाव- सर्दियों में अपने दमा पर पूरा नियंत्रण रखेंसांस नली के ठंडा और खुष्क होने से दमा छिड़ सकता हैठंडी खुष्क हवा में कसरत करने से परहेज़ करेंस्कीईंग, स्नो बोर्डिंग या आईस स्केटिंग जैसी सर्दियों की खेलों से बचें।कसरत से 20 मिनट पहले सांस नली वाले इनहेलर का प्रयोग करेंइनहेलर को गर्म माहौल में रखें ताकि स्प्रे करते वक्त ठंडा ना लगेतीव्र कसरत करने से पहले खुद को वार्म अप करें और बाद में...
allergy, asthma, health, home remedies, infection, nasal problems, एलर्जी, खुजली, घरेलू नुस्खे, दमा, नाक बंद

घरेलू नुस्खा | कैसे करें जल नेती या नेज़ल वाॅश से बंद नाक का इलाज

कई लोग जिन्हें दमे के साथ नाक और साईनेस सीक्रेषन की समस्या होती है, उनका दमा भी काफी बिगड़ सकता है। पारंपरिक भारतीय पद्धति जल नेती से अपनाई गई नमकीन पानी से नाक की सफाई या नेज़ल इरीगेषन पद्धति अब ऐसी बीमारियों के इलाज की माणक पद्धति बन गई है।नेज़ल वाॅष से जमा हुआ या बंद नाक साफ होकर खुल जाता है, जिससे डाॅक्टर द्वारा दी गई दवा ज़्यादा असर कर पाती है। यह नाक में से एलर्जी और खुजली मिटाने में भी मदद करता है, जिससे संक्रमण फैलाने वाले बैक्टीरीया और वायरस से छुटकारा मिलता है। इससे नाक की सोजिष कम होती है और सांस लेने के लिए ज़्यादा जगह मिलती है, यह जानकारी इंडियन मेडिकल एसोसिएषन के राष्ट्रीय अध्यक्ष पदम्श्री डाॅ ए मारतंड पिल्लई और इंडियन मेडिकल एसोसिएषन के आॅनरेरी सैक्रेटरी जनरल पद्मश्री डाॅ केके अग्रवाल ने दी है।जल नेती या नेज़ल वाॅश से बंद नाक का इलाज वैसे इस पद्धति को प्रयोग करते स...