Friday, August 12

kanhaiya kumar

kanhaiya kumar, narendar modi, politics

कन्हैया कुमार के 6 ज़ोरदार हमले!

पूर्व जेएनयू स्‍टूडेंट और युवा सीपीआई नेता कन्‍हैया कुमार के लुधियाना आने की ख़बर आते ही यहां पंजाबी भवन के आसपास तनाव का माहौल बना हुआ था। लुधियाना बार एसोसिएशन से जुड़े कुछ वकीलों ने उनके लुधियाना आने के विरोध में प्रदर्शन करने की चेतावनी दे रखी थी। जिससे देखते हुए सुबह से पंजाबी भवन को छावनी में तब्‍दील कर दिया गया। करीब 12 बजे कन्‍हैया के पंजाबी भवन पहुंचने के बाद सुरक्षा चाक-चौबंद कर दी गई। पंजाबी भवन की ओर आती सड़क पर बैरीकेट लगा कर प्रदर्शनकारी वकीलों को रोक दिया गया, उन्‍होंने वहीं पर धरना दिया। कुछ देर उन्‍हें पुलिस वैन में बिठा कर पुलिस ले गई। कन्‍हैया कुमार ने लुधियाना के पंजाबी भवन में सोशल थिंकर्ज़ फोरम एवं पंजाबी साहित्‍य अकादमी द्वारा महंगी शिक्षा, घटते रोज़गार विषय आयोजित की गई विचार चर्चा के दौरान भाषण देने आए थे। इस दौरान उन्होंने प्रधान मंत्री नरेंन्द्र मोदी, उनकी सरकार...
kanhaiya kumar, politics, कन्हैया कुमार, राजनीति‍

कन्हैया के नाम एक खुला खत

कन्हैया कुमार! जब से तुमने जेएनयू परिसर से आज़ादी की हुंकार भरी है, पूरा देश तुम्हारी ओर बेहद उम्मीदों से देख रहा है। जब कुछ चैनलों ने तुम्हारे भाषण की छेड़छाड़ वाली वीडियो प्रसारित की थी तो मन कह रहा था कि घोर अन्याय हुआ है तुम्हारे साथ, जब काले कोट पहने कुछ लोगों ने तुम पर हमला किया था तो बेहद दर्द भी हुआ था।    तुमने जो इन सब दिनों में झेला है वह हमारे सिस्टम की एक बानगी दिखाता है। तुम भली भांति जानते हुए को नायक्तव वाला जो आभास इस वक्त तुम महसूस कर रहे हो, वह इस सिस्टम की ख़ामियों से ही उत्पन्न हुआ है। यह पत्र लिखने का विचार मुझे तब आया जब रवीश कुमार के साथ इंटरव्यू में तुमने कहा कि कोट छोड़ कर तुम सोच को पकड़ कर एकजुटता पैदा करना चाहते हो। ऐसा कहके तुमने उन लाल कटोरे वालों को भी नाराज़ कर दिया होगा जो किसी दूसरी सोच को प्रयोगशाला वाले चिमटे से भी उठाने की इच्छा नहीं रखते, च...